भदोही पुलिस ने 35 लाख का गांजा किया बरामद, दो तस्कर गिरफ्तार

By प्रभुनाथ शुक्ल

Published on:

उड़ीसा से सस्ते दाम में खरीद कर गाजियाबाद,आगरा, नोएडा व दिल्ली में जाता है खपाया

ट्रक में बाहर से लादते थे शीशी-बोतल और अंदर केबिन रखते थे गांजा

भदोही, 15 अक्टूबर। शब्दरंग न्यूज डेस्क

उत्तर प्रदेश की भदोही पुलिस ने 35 लाख रुपये की कीमत का 350 कुंतल गांजा बरामद किया है। पुलिस ने उस ट्रक को भी बरामद किया है जिसमें गांजा लदा था। उड़ीसा से सस्ते में लाकर राज्य के विभिन्न हिस्सों में खपाया जाता था। पुलिस अंतर्राज्यीय गिरोह के दो मुख्य आरोपितों को भी गिरफ्तार किया है।

Bhadohi police recovered ganja worth 35 lakhs

भदोही पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल कुमार ने पत्रकारों को बताया कि शुक्रवार रात करीब 10.40 बजे क्राइम ब्रांच व थाना ऊँज को मादक पदार्थो की तस्करी के सम्बंध में सूचना मिली। इस पर टीम ने घेराबंदी करके नेशनल हाइवे वाराणसी -प्रयागराज मार्ग पर ऊँज थाना के नवधन गाँव के पास एक ट्रक से 350 कुंतल गांजा बरामद किया है।जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 35 लाख रूपया है। इस मामले में दो आरोपितों को भी गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित पवन कुमार यादव,अकबर टोम, थाना सिकन्दरा जनपद आगरा , और उसका साथी प्रमेंन्द्र सिंह, नवापुरा ,थाना सादाबाद, जिला हाथरस, शनि यादव, गणेश बिहार कालोनी, औरगांबाद जिला मथुरा, कपिल चौधरी उर्फ विष्णु चौधरी उर्फ़ केपी, सिकन्दरा मिलकर गांजे की तस्करी करते हैं।

गिरोह के लोगों के अनुसार ट्रक के माध्यम से उड़ीसा के ब्रम्हपुर सस्ते दामों पर गांजा खरीद कर उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों क्रमशः आगरा, गाजियाबाद, नोएडा और दिल्ली में महगें दामो पर बेचते है। गांजा बेचने के पश्चात जो पैसा मिलता है, उसे आपस में हिस्सेदारी के अनुसार बांट लेते है। पुलिस ने पवन कुमार यादव और प्रमेन्द्र सिंह को गिरफ्तार किया है जबकि बाकि दो आरोपित वांछित है। पुलिस ने आरोपितों के पास से 1700 रूपया नगद, एक मोबाइल और एक ट्रक भी बरामद किया है जिसकी कीमत 15 लाख बताया है।

पुलिस के दावे के अनुसार कुल बरामदगी 50 लाख रूपये की बतायी गयी है। पुलिस अधीक्षक डॉ अनिल कुमार की तरफ से गांजा बारामद करने वाली पुलिस टीम को प्रशस्तिपत्र के साथ 25 हजार के इनाम की घोषणा की गई है।

प्रभुनाथ शुक्ल

लेखक वरिष्ठ पत्रकार, कवि और स्वतंत्र टिप्पणीकार हैं। आपके लेख देश के विभिन्न समाचार पत्रों में प्रकाशित होते हैं। हिंदुस्तान, जनसंदेश टाइम्स और स्वतंत्र भारत अख़बार में बतौर ब्यूरो कार्यानुभव।

Leave a Comment