UP : पैंतीस साल की उम्र में 72 वीं बार रक्तदान कर गणेश बने मिसाल

By प्रभुनाथ शुक्ल

Published on:

Ganesha became an example by donating blood for the 72nd time at the age of thirty-five

स्वामी विवेकानंद के जयंती पर मायहोम इंडिया ने किया रक्तदान शिविर का आयोजन

रक्तदान शिविर में पिता-पुत्र ने एक साथ रक्तदान युवाओं को किया प्रोत्साहित

भदोही, 12 जनवरी । शब्दरंग न्यूज डेस्क

स्वामी विवेकानंद की जयंती युवा दिवस रुप में मनायी गयीं। मायहोम इंडिया की भदोही यूनिट ने स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया। इस दौरान मंडलीय और जिलाचिकित्सालय की ब्लडबैंक टीम के साथ स्वास्थ्यकर्मी भी मौजूद रहे।

भदोही के जिला संयोजक सुशील मिश्रा ने रक्तदान की शुरुवात कर कार्यक्रम की शुरुवात की। उन्होंने कहा
युवा रक्तदान कर लोगों को जिंदगी बचाने में सहयोग करें।संस्था के भदोही सहसंयोजक गणेश तिवारी ने अपनी पैंतीस साल की उम्र में 72 वीं बार रक्तदान कर युवाओं को प्रोत्साहित किया। सुरियावां के एक निजी अस्पताल में रक्तदान का आयोजन किया गया।

Ganesha became an example by donating blood

इस दौरान जनपद के अभिया निवासी शैलेश शुक्ला और उनके बेटे मिहिर शुक्ला ने भी रक्तदान किया। मायहोम इंडिया के जिला संयोजक सुशील मिश्रा ने बताया कि संस्था द्वारा देश के विभिन्न राज्यों में अनेक प्रकल्प पर कार्य किए जा रहे हैं। अनेक राज्यों में रक्तदान का कार्य किया जा रहा है। भदोही यूनिट द्वारा दो वर्षों से कोविड-19 के नियंत्रण के लिए वैक्सीनेशन और जांच आदि में सहयोग किया जा रहा है।

रक्तदान में सुमित गुप्ता, योगेश कुमार ,अखिलेश पाल, गणेश तिवारी, आशीष कुमार, दिलीप यादव, शैलेश शुक्ला , मिहिर शुक्ला, राहुल कुमार साहू, प्रभा शंकर सिंह, सूरज कुमार सहित अनेक लोगों ने रक्तदान किया इस अवसर पर जिला अस्पताल से महेंद्र कुमार अनिल कुमार यादव अमित परवेज सुमित पांडेय नीलेश तिवारी सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे।

प्रभुनाथ शुक्ल

लेखक वरिष्ठ पत्रकार, कवि और स्वतंत्र टिप्पणीकार हैं। आपके लेख देश के विभिन्न समाचार पत्रों में प्रकाशित होते हैं। हिंदुस्तान, जनसंदेश टाइम्स और स्वतंत्र भारत अख़बार में बतौर ब्यूरो कार्यानुभव।

Leave a Comment