संभाग स्तरीय स्केटिंग प्रतियोगिता में गणेश स्कूल के खिलाड़ियों ने जीते 17 पदक

By shabdrang

Updated on:

skating competition

खिलाड़ियों ने 8 स्वर्ण, 3 रजत और 6 कांस्य सहित कुल 17 पदक जीते

सीधी। जिला स्केटिंग संघ रीवा द्वारा रीवा के बिलाबॉन्ग हाई इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित संभाग स्तरीय स्केटिंग प्रतियोगिता में श्री गणेश सीनियर सेकेंडरी स्कूल, पड़रा के स्केटिंग खिलाड़ियों ने आठ स्वर्ण सहित 17 पदक जीतकर विद्यालय व सीधी जिले का नाम संभागीय स्तर पर रोशन किया है। उल्लेखनीय है कि इन स्केटिंग छात्र खिलाड़ियों ने कोच माखनलाल मिश्र के कुशल मार्गदर्शन में स्केटिंग की महत्वपूर्ण विधाएं सीखी है। विजेता खिलाड़ियों ने प्रतियोगिता में अपने खेल कौशल का जबरदस्त प्रदर्शन कर बड़ी उपलब्धि हासिल की है। वही विद्यालय पहुँचने पर विजेता खिलाडियों का जोरदार स्वागत किया गया।

divisional level skating competition

प्रवक्ता राजकपूर चितेरा ने बताया कि स्कूल के स्केटिंग खिलाड़ियों ने 8 स्वर्ण, 3 रजत और 6 कांस्य सहित कुल 17 पदक प्राप्त किया। बताया कि स्वर्ण पदक प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों में प्रणव दुबे, उत्कर्ष दुबे, उत्कर्ष गुप्ता, शिवांशु त्रिपाठी, आयांश शुक्ला, रामकुश यादव, रूद्र द्विवेदी एवं यश सिंह के नाम शामिल हैं। वहीं विक्रमादित्य, रिसित सिंह और विनायक सिंह ने रजत पदक जीता। साथ ही आयांश सोनी, सुयश गुप्ता, सचिन सिंह, रिदम नामदेव, शिवांकर मिश्रा और पियूष गुलवानी ने कांस्य पदक प्राप्त किया।

Read More: गणेश स्कूल के आवासीय छात्रों ने देखा चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग का सीधा प्रसारण

खिलाड़ियों के इस प्रदर्शन की स्कूल के संचालक नीरज शर्मा, सह-निदेशक अरुण ओझा, प्राचार्य डॉ. महेंद्र तिवारी और एच.एम. प्रीती शर्मा ने संयुक्त रूप से सराहना की। इस मौके पर योगा शिक्षक तरुणनाथ मिश्र, खेल प्रशिक्षक संजय मालवीय, एनसीसी कोच विश्वास पाण्डेय और खेल प्रशिक्षिका पूजा तिवारी सहित अन्य सभी शिक्षकों ने खिलाड़ियों को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं देते हुए उज्जवल भविष्य की कामना की।

shabdrang

शब्दरंग एक समाचार पोर्टल है जो भारत और विश्व समाचारों की कवरेज में सच्चाई, प्रामाणिकता और तर्क देने के लिए समर्पित है। हमारा उद्देश्य शिक्षा, मनोरंजन, ऑटोमोबाइल, प्रौद्योगिकी, व्यवसाय, कला, संस्कृति और साहित्य सहित वर्तमान मामलों पर एक व्यापक परिप्रेक्ष्य प्रदान करना है। ज्ञानवर्धक और आकर्षक सामग्री के माध्यम से दुनिया के विविध रंगों की खोज में हमारे साथ जुड़ें।

Leave a Comment